पाकिस्तान ही नहीं अब भारत को भी है सेमी फाइनल से बाहर जाने का खतरा..

टीम इंडिया ने पर्थ में खेले गए इस मैच में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 9 विकेट पर 133 रन बनाए जिसके बाद दक्षिण अफ्रीका ने 5 विकेट खोकर दो गेंद बाकी रहते लक्ष्य हासिल कर लिया. सूर्यकुमार यादव ने 170 के स्ट्राइक रेट से खेलते हुए 40 गेंदों पर 6 चौके और 3 छक्के जड़े और 68 रन बनाए. लुंगी एंगिडी को प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया जिन्होंने 4 विकेट लिए. दक्षिण अफ्रीका के लिए एडन मार्कराम ने 52 और डेविड मिलर ने 46 गेंदों पर 59 रनों की नाबाद पारी खेली. उन्होंने इस दौरान 4 चौके और 3 छक्के जड़े. पेसर अर्शदीप सिंह ने दो विकेट झटके.

यह मौजूदा एडिशन में टीम इंडिया की पहली हार रही. रोहित शर्मा की कप्तानी में खेल रही टीम पर्थ में मिली इस हार के बाद अब अपने ग्रुप में नंबर-2 पर खिसक गई है. उसके 3 मैचों से 4 अंक हैं. वहीं दक्षिण अफ्रीका इतने ही मैचों में 5 अंकों के साथ टॉप पर है. ऐसे में सेमीफाइनल में पहुंचने का समीकरण भी बदल गया है.

दक्षिण अफ्रीका से भारत की हार का मतलब है कि उन्हें सेमीफाइनल में पहुंचने के लिए अपने आखिरी दोनों मैच जीतने होंगे. अगर वे बांग्लादेश को हराते हैं लेकिन जिम्बाब्वे से हार जाते हैं, तो जिम्बाब्वे और दक्षिण अफ्रीका दोनों सात या ज्यादा अंक लेकर उससे ऊपर हो जाएंगे. अगर भारत जिम्बाब्वे को हरा देता है लेकिन बांग्लादेश से हार जाता है, तो बांग्लादेश और दक्षिण अफ्रीका भारत से आगे निकल सकते हैं. फिलहाल बुधवार को बारिश की 70% संभावना है, जब भारत बांग्लादेश से भिड़ेगा. इसलिए मौसम पर भी नजरें रहेंगी.

शाकिब अल हसन की कप्तानी वाली टीम बांग्लादेश ने अभी तक 3 मैच खेले और उसके भारत के बराबर 4 अंक हैं. हालांकि नेट रन रेट (-1.533) के मामले में वह पिछड़ रहा है. उसे अभी भारत और पाकिस्तान से मैच खेलने हैं जो आसान नहीं रहेंगे. इस टीम को रेस में बने रहने के लिए कम से कम एक जीतना होगा. यदि टीम दोनों मैच जीत जाती है तो उसके आठ अंक हो जाएंगे और अन्य परिणामों की परवाह किए बिना ही उसे सेमीफाइनल में जगह मिल जाएगी.

Related posts