विराट कोहली के मैनेजर ने डिप्रेशन पर दिया बड़ा बयान कहा कि पहले थी फॉर्म की टेंसन लेकिन विराट कोहली अब डिप्रेसन में चले गए है

क्रिकेट के दिग्गज सितारे विराट कोहली  लंबे समय से आउट ऑफ फॉर्म चल रहे हैं. ख़राब फॉर्म से जूझने के बावजूद इस बल्लेबाज पर टीम मैनेजमेंट ने भरोसा जताया है. टीम मैनेजमेंट ने एशिया कप 2022 के लिए भारत के पूर्व कप्तान विराट कोहली का 15 सदस्यीय भारतीय दल में चयन किया है.

इस टूर्नामेंट के आगाज से पहले विराट कोहली ने अपने अंदर की कुछ कमियों पर मीडिया के साथ खुल कर बात की. वहीं, विराट कोहली (Virat Kohli) के मैनेजर ने दाएं हाथ के स्टार बल्लेबाज के मानसिक स्वास्थ्य को लेकर बड़ा बयान दिया है.

Virat Kohli के मैनेजर ने दिया बड़ा बयान

दरअसल, रन मशीन विराट कोहली का बल्ला इन दिनों क्रिकेट के मैदान में खामोश है. आईपीएल 2022 से लेकर अब तक विराट अपनी खोई हुई फॉर्म पाने कोशिश कर रहे हैं. इस दौरान उन्हें मानसिक स्वास्थ्य जैसी चुनौतियों का सामना भी किया है. कोहली के मैनेजर का कहना है कि विराट कोहली ने मानसिक स्वास्थ्य की चुनौतियों का अनुभव किया है. कॉर्नरस्टोन के सीईओ और विराट कोहली के मैनेजर बंटी सजदेह (Bunty Sajdeh) का कहना है कि,

“विराट कभी भी अकेला महसूस नहीं करेगा जब वह उन लोगों के आसपास होगा जो उसे प्यार करते हैं और उसका समर्थन करते हैं. वहीं से उसे मानसिक मजबूती मिली है. प्रत्येक शीर्ष एथलीट उन दबावों और अपेक्षाओं से निपटने की मानसिक चुनौतियों से गुजरा है जो वे जिस स्थिति में हैं, उसके साथ आते हैं. डिप्रेशन बहुत बड़ा और महत्वपूर्ण शब्द है जिसे इतने ढीले तरीके से इस्तेमाल किया जा सकता है.”

‘मैं कई बार अकेला महसूस करता हूं’- विराट कोहली

बताते चलें कि कुछ दिन पहले ही टीम के पूर्व कप्तान ने इंडियन एक्सप्रेस के साथ बातचीत करते हुए अपने मानसिक स्वास्थ्य और टॉप एथलीट होने के दबाव के बारे में खुलासा किया था. विराट का कहना था कि, “किसी के आंतरिक मन में क्या चल रहा है ये जानना बेहद अहम है.अगर एक कमरे में मुझे प्यार और समर्थन देने वाले लोग होते हैं तो भी मैं कई बार अकेला महसूस करता हूं।”