भारतीय क्रिकेट टीम से संन्यास लेने के बाद भी धाकड़ बल्लेबाज सुरेश रैना (Suresh Raina) का तहलका मचाते हुए नजर आ रहा है। उन्होंने भले ही अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट और आईपीएल को अलविदा कह दिया हो, लेकिन उनके बल्ले में अभी भी वो आग बरकरार है जिसके लिए वह अपने कार्यकाल के दौरान दुनिया भर में मशहूर हुआ करते थे। हाल ही में उन्हें भारत के दक्षिणी हिस्से में हुई कन्नड़ चालनचित्र लीग में धमाल मचाते हुए देखा गया। वहीं, इस लीग के फाइनल मुकाबले में उन्होंने विस्फोटक पारी खेल डार्लिंग कृष्ण की टीम को खिताबी जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई।

 

Suresh Raina की धमाकेदार बल्लेबाजी ने गंगा वॉरियर्स को दिलाया KKC 2023 का खिताब

दरअसल, 25 फरवरी को कन्नड़ चलनचित्र कप यानी केसीसी टी20 चैंपियनशिप 2023 (KCC T20 Championship 2023) के तीसरे सीजन का फाइनल मुकाबला खेला गया। ये मुकाबला डार्लिंग कृष्ण की गंगा वॉरियर्स और प्रदीप बोगड़ी की अगुवाई वाली टीम विजयनगर पैट्रियट्स के बीच खेला गया। मुकाबले में गंगा ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया जोकि बिल्कुल सही साबित हुआ।

टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए विजयनगर टीम शुरुआत से ही संघर्ष करती हुई दिखी। डार्लिंग की टीम की दमदार गेंदबाजी और फील्डिंग के चलते पैट्रियट्स ने 10 ओवरों में 81 रन का मामूली-सा स्कोर खड़ा किया। इस दौरान एक ओवर सुरेश ने भी डाला और दो विकेट हासिल की। जिससे टीम को काफी मदद मिली।

Suresh Raina की बल्लेबाजी के सामने विजयनगर की टीम ने टेके घुटने

जवाब में सुरेश रैना ने शुरुआत में बैक टू बैक चार चौके लगाकर गंगा वॉरियर्स टीम के लिए शानदार अंदाज में पारी का आगाज किया। उन्होंने डार्लिंग कृष्ण के साथ अच्छी साझेदारी निभा टीम की जीत की नींव रखी। हालांकि, रजत हेगड़े ने चौथे ओवर में कृष्ण (6 गेंदों पर 13 रन) को बोल्ड कर इस जोड़ी को तोड़ दिया। जब वह आउट हुए टीम का स्कोर 42 रन था। ऐसे में रैना मोर्चा संभाला और टीम की इस पारी को आगे बढ़ाया। उन्होंने 54 रनों की ताबड़तोड़ अर्धशतकीय पारी खेल गंगा वॉरियर्स को 9 विकेट से शानदार जीत दिलाई। इस दौरान उन्होंने करण आर्यन भी मिला, जिन्होंने 9 गेंदों पर 13 रन जोड़े।

 

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Suresh Raina (@sureshraina3)