वीडियो: पाकिस्तानी क्रिकेटर ने एमएस धोनी की इंटरनेशनल लेवल पर की बेइज्जती, सालों बाद सामने आई कैप्टन कूल की चौंकाने वाली सच्चाई

भारतीय टीम ने 2007 में धोनी की कप्तानी में T20 वर्ल्ड कप का खिताब जीता था और उसके बाद टीम इंडिया अभी तक एक भी बार T20 वर्ल्ड कप ट्रॉफी नहीं जीत पाई है. हाल ही में T20 वर्ल्ड कप का आठवां सीजन खेला गया था, जिसका फाइनल मुकाबला पाकिस्तान और इंग्लैंड के बीच खेला गया. इस मैच के दौरान पाकिस्तान टीम के इस पूर्व क्रिकेटर ने लाइव शो पर धोनी को झूठ बोलकर नीचा दिखाने की कोशिश की थी. लेकिन उसका यह बयान पूरी तरह से झूठा साबित हुआ और अब इस वजह से पाकिस्तान के उस क्रिकेटर की चारों तरफ काशी आलोचना हो रही है.

क्या बोला था पाक क्रिकेटर?

दरअसल, पाकिस्तान टीम 2007 के T20 वर्ल्ड कप में शोएब मलिक की कप्तानी में खेली थी. शोएब मलिक ने पाकिस्तान-इंग्लैंड फाइनल मैच के दौरान लाइव शो पर एक बयान दिया था. उन्होंने कहा था कि मिस्बाह उल हक के खिलाफ भारत के प्रमुख गेंदबाज गेंदबाजी करने से डर रहे थे और उन्होंने मना कर दिया था. उनके एक-एक ओवर बाकी थे. लेकिन शोएब मलिक का यह बयान पूरी तरह से झूठा निकला. बात कुछ और ही थी.

शोएब मलिक ने एक स्पोर्ट्स चैनल पर कहा था- मैं नाम नहीं लूंगा. भारत के हर मुख्य गेंदबाज का एक ओवर बचा था. धोनी ने सब से पूछा. लेकिन उन्होंने आखिरी ओवर डालने से मना कर दिया. वे मिस्बाह को गेंदबाजी करने से डरते थे. वह चारों तरफ शॉट लगा रहे थे. अगर उस समय हमारा यह आखिरी विकेट नहीं होता तो मैं कह रहा हूं कि उन्होंने गेंद को बाउंड्री के पास भेज दिया होता. उस ओवर में उन्होंने जोगिंदर को पहले ही छक्का जड़ दिया था.

क्या है पूरा मामला?

दरअसल पाकिस्तान टीम को उस समय फाइनल मैच में जीत के लिए आखिरी ओवर में 13 रन चाहिए थे और पाकिस्तान टीम केवल 8 ही रन बना पाई थी. आखिरी ओवर की तीसरी गेंद पर पाकिस्तान के मिस्बाह उल हक श्रीसंत के हाथों कैच आउट हो गए थे. लेकिन शोएब मलिक ने लाइव शो पर सबके सामने बहुत बड़ा झूठ बोल दिया और अब उनके इस झूठ का पर्दाफाश हो गया है, जिस वजह से अब उनकी हर तरफ जमकर आलोचना हो रही है.https://youtu.be/hdnrudwaXos

जबकि सच्चाई यह है कि आरपी सिंह, एस श्रीसंत और इरफान पठान के 4-4 ओवर हो चुके थे. बसहरभजन सिंह का एक ओवर बाकी था, क्योंकि वे 3 ओवर में 36 रन दे गए थे. इसी वजह से धोनी ने एक ओवर यूसुफ पठान से पहले ही निकलवा दिया था. ऐसे में ये सवाल ही नहीं उठता कि टीम इंडिया के प्रमुख गेंदबाजों का एक-एक ओवर 20वें ओवर से पहले बाकी थी. यह कारण है कि शोएब मलिक ने नेशनल टीवी पर झूठा बयान दिया.

Related posts