VIDEO:न्यूज़ीलैंड से मिली शर्मनाक हार के बाद टीम इंडिया में पसरा मातम,Sanju-Arshdeep की आंखों में आए आंसू, तो Dhawan भी हुए मायूस,

NZ vs IND: न्यूज़ीलैंड में मौजूद भारत की क्रिकेट टीम (Team India) के लिए 3 मैचों की वनडे सीरीज की शुरुआत बेहद शर्मनाक रही है। ऑकलैंड में खेले गए पहले मैच में टीम इंडिया को 300 से अधिक रन बनाने के बावजूद हार का सामना करना पड़ा है। जिसने एक बार फिर भारत के गेंदबाजी क्रम पर सवालिया निशान खड़ा कर दिया है। वहीं मुकाबला हारने के बाद टीम इंडिया के खेमे से भावुक कर देने वाली तस्वीरें और वीडियो सामने आ रही है।

पहला वनडे हारने के बाद भावुक हुए Team India के खिलाड़ी

शिखर धवन के नेतृत्व वाली टीम इंडिया और न्यूज़ीलैंड के खिलाफ पहले वनडे मैच में उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पाई। खासकर अनुभवहीन गेंदबाजी क्रम ने खासा निराश किया। उमरान मलिक को हटा दिया जाए तो भारत का कोई भी गेंदबाज कीवी बल्लेबाजों के सामने चुनौती नहीं पेश कर पाया। वहीं सिर्फ 5 गेंदबाजी के विकल्प के साथ मैदान में उतरना शिखर को भारी पड़ा।

शुरुआती ओवर में शिकंजा कसने के बावजूद भारत 307 रनों के लक्ष्य का बचाव नहीं कर सका। जिसकी मायूसी मुकाबले अंत में देखी गई। ड्रेसिंग रूम में लौटते समय संजू सैमसन और अर्शदीप सिंह समेत सभी खिलाड़ियों के चहरे पर मातम पसरा हुआ नजर आया। जिसकी वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रही है।

यहां देखें वीडियो –

NZ vs IND: न्यूज़ीलैंड ने भारतीय गेंदबाजों की धुलाई कर जीता मैच

इसके साथ ही बात की जाए मैच की तो न्यूज़ीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने टॉस जीतने के बाद भारत को पहले बल्लेबाजी करने का न्योता दिया था। जहां सलामी जोड़ी शुभमन गिल(50) और शिखर धवन(72) ने पहले विकेट के लिए 124 रन जोड़े। ऋषभ(15)-सूर्याकुमार यादव(5) फ्लॉप हुए तो श्रेयस अय्यर(80) और संजू सैमसन(35) ने मोर्चा संभालते हुए भारत को बड़े स्कोर की ओर अग्रसर किया। अंत में वॉशिंगटन सुंदर(37) ने तबतड़तोड़ बल्लेबाजी कर टीम इंडिया को 306 के आंकड़े तक पहुंचाया।

307 रन का लक्ष्य एकदिवसीय मैच में जाहिर तौर पर चुनौती पूर्ण साबित होता है। लेकिन अनुभव की कमी होने के कारण भारतीय गेंदबाजों पर आत्मविश्वास नहीं बन रहा था। हालांकि उमरान मलिक और शार्दुल ठाकुर ने 88 रन पर 3 कीवी बल्लेबाजों को आउट कर दिया था। जिसमें से 2 विकेट पहला मैच खेल रहे मलिक के खाते में आए।

लगातार विकेटों के पतन के बीच केन विलियमसन एक छोर पर डटे हुए थे, बाद में उनका साथ अनुभवी टॉम लेथम ने निभाया। दोनों बल्लेबाजों के बीच 149 रनों की साझेदारी हुई, जिसमें टॉम ने विस्फोटक अंदाज में 145* रन बनाए। तो केन ने भी 94* रनों का योगदान देकर न्यूज़ीलैंड को जीत दिलाई।

 

Related posts