Join Now

WA के खिलाफ दूसरे वॉर्म अप मुकाबले में टीम इंडिया  (Team India)को 36 रनों से हार का सामना करना पड़ा। पहले मुकाबले में भारत ने वेस्टर्न ऑस्ट्रेलिया को 13 रनों से शिकस्त दी थी लेकिन दूसरे मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया की इसी C ग्रेड टीम के सामने ही हार कर टीम इंडिया (Team India) ने वर्ल्ड कप की अपनी दावेदारी पर चिंता जताई है।

वेस्टर्न ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे प्रैक्टिस मुकाबले में भारतीय टीम का एक ऑलराउंडर लगातार अपनी प्रदर्शन से फ्लॉप हो रहा है। हालांकि मौका नहीं मिलने पर फैंस सेलेक्टर्स पर अपनी भड़ास निकाल रहे थे लेकिन जब उसे मौका दिया गया तो सी ग्रेड टीम के सामने बल्ले और गेंद दोनों से ही फ्लॉप रहे।

सी ग्रेड टीम के सामने फ्लॉप हुआ ये ऑलराउंडर

टी20 वर्ल्ड कप 2022 के लिए भारतीय टीम (Team India) के स्कॉड में ऑलराउंडर के तौर पर दीपक हुड्डा को शामिल किया गया। हुड्डा ने इस साल आयरलैंड के खिलाफ जून में दो मैचों की टी20 सीरीज के दौरान शानदार नाबाद 47 और 104 रनों की पारी खेली थी।

इस सीरीज के बाद उन्हें लगातार ही मौका दिया गया लेकिन उसके पारी के बाद वो अपनी लय में नहीं दिखे और उनका प्रदर्शन लगातार गिरता चला जा रहा है। इसके बावजूद उन्हें टी20 वर्ल्ड कप में भी मौका दिया गया लेकिन प्रैक्टिस मुकाबले में वेस्टर्न ऑस्ट्रेलिया जैसी सी ग्रेड टीम के सामने ही वो न तो अपने बल्ले से और न ही गेंद से कमाल दिखाने में कामयाब हो पाये।

दोनों मुकाबलों में नहीं कर पाये कमाल

वेस्टर्न ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वर्ल्ड कप से पहले दो वॉर्म मैच मुकाबला खेला गया जिसमें दीपक हुड्डा का प्रदर्शन बेहद ही खराब रहा। पहले मुकाबले में उनके बल्ले से 14 गेंदों में 22 रन तो गेंदबाजी करते हुए उन्हें एक भी विकेट हासिल नहीं हुआ। उन्होंने उस मुकाबले में 2 ओवर में कुल 24 रन लुटवा दिए थे।

वहीं दूसरे वॉर्म अप मुकाबले में वो 9 गेंदों में महज 6 रन बनाकर पवेलियन लौट गये और गेंदबाजी की बात करें तो इस बार भी वो बल्लेबाजों पर रन लुटा दिये। इस मुकाबले में उन्होंने पूरे 2 ओवर में 11.00 की इकोनॉमी रेट से 22 रन दिये।

प्रदर्शन का ग्राफ गिर रहा नीचे

दीपक हुड्डा अपनी आक्रमक बल्लेबाजी के लिए जाने जाते हैं और साथ ही वो किसी भी क्रम पर बल्लेबाजी करने की क्षमता रखते हैं। हालांकि इस बात अंदाजा तो आयरलैंड सीरीज के दौरान ही लग गया था जहां उन्होंने एक मुकाबले में ओपनिंग तो दूसरे में तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी की थी। लेकिन आयरलैंड सीरीज के बाद से ही उनका परफॉर्मेंस ग्राफ लगातार नीचे की तरफ गिर रहा है।

टी20 के वॉर्म अप मुकाबले से पहले उन्होंने अपना आखिरी मुकाबला एशिया कप 2022 में खेला था जहां तीन मैचों में खेलने का मौका मिला था जिसमें से एक में उन्हें बल्लेबाजी का मौका नहीं मिला लेकिन बाकी के दो मुकाबलों में वो महज 16 और 3 रन ही बना पाये।

वहीं हुड्डा की गेंदबाजी की बात करें तो अपने पिछले 3 मुकाबले में वो महज 1 ही विकेट लेने में कामयाब रहे। दीपक हुड्डा का मौजूदा प्रदर्शन काफी ज्यादा खराब हो चुका है और ये वर्ल्ड कप में टीम इंडिया (Team India) के लिए खतरा साबित हो सकते हैं।