“पिता के क्रिकेटर बनने के ख्वाब को बेटे ने पूरा किया”पिता के यूपी की टीम में सलेक्शन और बेटे के अंतर्राष्ट्रीय टीम का सलेक्शन कुछ रहा नही आसान

कोलकता नाइटराइडर्स के बेहतरीन बल्लेबाज राहुल त्रिपाठी ने आईपीएल 2021 के पॉवरप्ले-2 में दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ 19वें ओवर की 5वीं गेंद पर छक्का लगाकर अपनी टीम को जीत दिलाई थी. हालांकि फाइनल मुकाबले में कोलकाता नाइटराइडर्स एमएस धोनी की चेन्नई सुपर किंग्स से हार गई. आईपीएल-14 के दूसरे चरण में सबसे ज्यादा ध्यान राहुल त्रिपाठी ने आकर्षित किया. दूसरे चरण के दौरान राहुल ने 9 मैचों में 210 रन बनाए.

राहुल त्रिपाठी इंजीनियर बनना चाहते थे लेकिन किस्मत को कुछ और ही मंजूर था.

अपने करियर के दौरान उन्होंने ऐसा भी वक्त देखा जब वह पूरी तरह टूट चुके थे. राहुल त्रिपाठी ने पांच सालों तक स्टेडियम नहीं गए लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी और अपनी काबलियत के दम पर वह आईपीएल तक पहुंचे.

 

राहुल त्रिपाठी के पिता कर्नल अजय त्रिपाठी ने एक बार मीडिया को बताया था कि जब राहुल 9 महीने के थे तभी से वह प्लास्टिक की बैट से खेला करते थे. उन्हें दूसरे खिलौनों से खेलने में दिलचस्पी नहीं थी. अजय त्रिपाठी ने आगे बताया कि राहुल के हाथों में बैट देखकर एक बार उनके सीनियर ने उन्हें क्रिकेटर बनाने की सलाह दी थी. राहुल थोड़ा बड़ा होने पर पेंसिल की विकेट और स्केल को बैट बना कर खेलते थें.

राहुल त्रिपाठी के पिता यूपी के लिए खेल चुके हैं क्रिकेट

 

राहुल त्रिपाठी का जन्म 2 मार्च साल 1991 को झारखंड के रांची में हुआ था. उनके पिता अजय त्रिपाठी भारतीय सेना में कर्नल हैं. अजय त्रिपाठी कर्नल बनने से पहले उत्तर प्रदेश क्रिकेट टीम की तरफ से क्रिकेट खेला करते थे.

 

राहुल त्रिपाठी के पिता सेना में थे जिसके कारण उनका बार-बार ट्रांसफर होता रहता था. ऐसे में राहुल देश के कई हिस्सों में रहे. उनके पिता बताते हैं कि वह खेलने के साथ पढ़ाई में भी तेज थे. वह क्लास में टॉप 5 में अपना स्थान बनाते थें. आर्मी स्कूल में पढ़ाई के दौरान राहुल त्रिपाठी इंजीनियर बनना चाहते थे लेकिन क्रिकेट के प्रति उनके जूनून ने उन्हें क्रिकेटर बना दिया.

 

पुणे के डेक्कन जिमखाना में की क्रिकेट की प्रैक्टिस

 

जब राहुल त्रिपाठी का परिवार पुणे शिफ्ट हुआ तब वह क्रिकेट की प्रैक्टिस के लिए डेक्क्न जिमखाना ज्वाइन कर लिया.

जब महाराष्ट्र टीम में हुआ सिलेक्शन

साल 2003 में राहुल त्रिपाठी का सिलेक्शन महाराष्ट्र टीम के लिए हुआ. उस वक्त उनकी उम्र सिर्फ 14 साल थी. उस दौरान पुणे के नेहरु स्टेडियम में ट्रायल चल रहा था. जब यह बात राहुल को पता चली तो वह अपना एग्जाम आधे घंटे पहले खत्म करके स्टेडियम पहुंचे. उनकी बैटिंग स्टाइल देखकर सिलेक्टर्स काफी प्रभावित हुए और उन्हें शाम तक रुकने के लिए कहा. शाम के वक्त फिर से ट्रायल हुआ. जिसमें उन्होंने 2000 क्रिकेटरों में से टॉप 44 में अपनी जगह बनाई.

 

रणजी ट्रॉफी से की करियर की शुरुआत

राहुल त्रिपाठी साल 2012-13 में रणजी ट्रॉफी से अपने करियर की शुरुआत की थी. साल 2014 में सीके नायडू कप के दौरान उन्होंने बेहतरीन 4 शतक लगाए थे. जिसकी बदौलत महाराष्ट्र की टीम फाइनल में पहुंची थी. उनके शानदार प्रदर्शन को देखते हुए बीसीसीआई ने ‘बेस्ट क्रिकेटर ऑफ इंडिया’ के खिताब से नवाजा था.

 

5 साल बाद आईपीएल में मिला मौका

राहुल त्रिपाठी के जीवन में एक बार ऐसा भी वक्त आया जब शानदार खेलने के बावजूद उनका सिलेक्शन आईपीएल में नहीं हो पा रहा था. साल 2013 में उन्होंने फैसला लिया कि जब तक आईपीएल में उनका सिलेक्शन नहीं हो जाता तब तक वह क्रिकेट देखने स्टेडियम नहीं जाएंगे.

 

आईपीएल खेलने का उनका यह सपना साल 2017 में पूरा हुआ. राहुल के प्रदर्शन को देखते हुए राइजिंग पुणे सुपर जॉइंट्स ने उनके बेस प्राइस 10 लाख रुपये में खरीदा.

राहुल ने आईपीएल में दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ डेब्यू किया जिसमें वह 5 गेंद पर केवल 10 रन बना सके. अगला मैच गुजरात लायंस के खिलाफ खेला. जिसमें 17 गेंद पर 33 रन बनाए. इसी सीजन में राहुल त्रिपाठी ने कोलकाता नाइटराइर्स के खिलाफ 93 रनों की शानदार पारी खेली थी.

राजस्थान रॉयल्स ने 3.4 करोड़ रुपये में खरीदा

साल 2018 में राजस्थान रॉयल्स ने उन्हें 3.4 करोड़ रुपये में खरीदा. इस सीजन में वह 12 मैचों में 226 रन बनाए. साल 2019 में राजस्थान रॉयल्स की तरफ से 8 मैच खेलते हुए 141 रन बनाए. साल 2020 में राजस्थान रॉयल्स ने उन्हें ड्राप कर दिया.

इस मौके का फायदा उठाते हुए कोलकाता नाइटराइडर्स ने राहुल त्रिपाठी को 60 लाख रुपये में खरीदा. पिछले सीजन में उन्होंने केकेआर की तरफ से खेलते हुए 11 मैचों में 230 रन बनाए थे.

राहुल त्रिपाठी का करियर ग्राफ

राहुल त्रिपाठी ने अब तक 53 आईपीएल खेले हैं जिसमें उन्होंने 1249 रन बनाए हैं. वहीं प्रथम श्रेणी में 44 मैच खेलते हुए 2359 रन बनाएं हैं. जिसमें 6 शतर और 12 अर्धशतक शामिल है. राहुल त्रिपाठी लिस्ट ए में 38 मैच खेंले हैं जिसमें 1010 रन बनाया है. टी-20 करियर की बात करें तो राहुल त्रिपाठी 99 पारी में 2149 रन बनाए हैं.