9 साल से अधूरी ख्वाहिश को पूरा करेंगे रोहित शर्मा, पाकिस्तान से भिड़ंत से पहले भरी हुंकार कहा-“हम इतिहास बदलेंगे”और

टीम इंडिया टी20 विश्व कप में अपने अभियान का आगाज करने को तैयार है। उसे वर्ल्ड कप में पहला मुकाबला पाकिस्तान के खिलाफ मेलबर्न क्रिकेट गाउंड में 23 अक्टूबर को खेलना है। वहीं टूर्नामेंट के महामुकाबले से एक दिन पहले टीम इंडिया के कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने इस दौरान पत्रकारो के कई सावलो के जवाब भी दिए। इसी बीच रोहित (Rohit Sharma) ने 9 साल से आईसीसी ट्रॉफी जीतने के सूखे का भी जिक्र किया। आईए जानते है कि उन्होंने प्रेस वार्ता में आगे क्या कुछ कहा-

बतौर कप्तान रोहित शर्मा का पहला बड़ा टूर्नामेंट

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान विराट कोहली के कप्तानी छोड़ने के बाद रोहित शर्मा (Rohit Sharma) का बतौर कप्तान ये पहला बड़ा टूर्नामेंट है। इससे पहले रोहित ने किसी भी बड़े टूर्नामेंट की अगुवाई नहीं की है। हालांकि उन्होंने एशिया कप 2022 में टीम की अगुवाई की। लेकिन टीम को पाकिस्तान के खिलाफ मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा। जिसके बाद एशिया कप के सेमीफाइनल से पहले भारत का सफर खत्म हो गया। एक बार फिर विश्व कप में रोहित शर्मा के हाथो में टीम की कमान है। वहीं 23 अक्टूबर को होने वाली जंग में पाकिस्तान की कमान बाबर आजम करेंगे।

9 सालो से भारत ने नहीं जीता कोई ICC टूर्नामेंट

कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने मुकाबले से पहले शनिवार को आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में 9 साल से कोई भी टूर्नामेंट न जीतने पर कहा,

“2013 के बाद से हमने कोई आईसीसी ट्रॉफी खिताब नहीं जीता है। भारत जैसी मजबूत टीम से काफी उम्मीदें रहती हैं। इस विश्व कप ने हमें मौका दिया है कि हम इस इतिहास को बदल सकें।”

आपको बता दे कि भारतीय टीम ने पूर्व कप्तान धोनी की अगुवाई मे आखिरी बार 2013 में चैम्पियन ट्रॉफी का खिताब जीता। इसके बाद भारत ने कोई भी बड़ा खिताब नहीं जीता है। भारत ने 1983 विश्व कप, 2007 टी20 विश्व कप, 2013 चैम्पियन ट्रॉफी और 2011 में वनडे विश्व कप का खिताब जीता है।

रोहित ने पाकिस्तानी गेंदबाजी की तारीफ

रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने आगे बात करते हुए पाकिस्तानी टीम की गेंदबाजी की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा, ‘हम जानते हैं कि पाकिस्तान टीम की गेंदबाजी बहुत अच्छी है। हमारे बल्लेबाज काफी अनुभवी हैं। यह मुकाबले और खासतौर से दर्शकों के लिए एक अच्छी स्थिति बन जाती है। हमारे लिए बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों महत्वपूर्ण होंगे। हां, हमें फील्डिंग को भी नहीं भूलना चाहिए।’

Related posts