रोहित शर्मा ने सेमीफाइनल मुकाबले से पहले दी सबसे बड़ी खुशखबरी, भारतीय टीम को मिली राहत की सांस

 

रोहित शर्मा

टी20 वर्ल्ड कप 2022 में कल यानी 10 नवंबर को भारत और इंग्लैंड के बीच सेमीफाइनल मुकाबला खेला जाना है. इस मुकाबले से पहले भारतीय टीम के समाने एक मुसीबत आ खड़ी हुई थी जब कप्तान रोहित शर्मा प्रैक्टिस सेशन के दौरान चोटिल हो गए थे. लेकिन अब इस कप्तान रोहित की इंजरी को लेकर अपडेट सामने आई है जिसके मुताबिक अब रोहित शर्मा बिलकुल फिट एंड फाइन हो चुके हैं.

अब कल भारत के सेमीफाइनल मुकाबले में भारतीय प्लेइंग इलेवन का हिस्सा रहेंगे. दरअसल, बीते दिन हिटमैन अभ्यास सत्र के दौरान चोटिल हो गए थे, जिसके बाद यह कयास लगाए जा रहे थे कि कप्तान नॉकआउट मैच के लिए उपलब्ध नहीं हो पाएंगे। ऐसे में फैंस के बीच मायूसी का माहौल देखने को मिल रहा है। लेकिन बुधवार को रोहित की इंजरी पर बड़ी जानकारी सामने आई है।

रोहित शर्मा हुए दुरुस्त

भारत और इंग्लैंड के बीच होने वाले सेमीफाइनल के लिए प्रैक्टिस करते समय भारतीय कप्तान रोहित शर्मा बीते दिन यानी 8 नवंबर को चोटिल हो गए थे, जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था जिसमें रोहित शर्मा दर्द से तड़पते दिखे थे. इस वीडियो ने फैंस के बीच मायूसी फैला दी थी वहीं चिंता का माहौल बना हुआ था. इस सब को लेकर सबसे बड़ा सवाल उनके सेमीफाइनल मुकाबले में खेलने का उठ रहा था.

लेकिन अब आज जाकर इस पर अपडेट सामने आई है जिसके मुताबिक इस बात की पुष्टि हुई है की कप्तान शर्मा बिलकुल दुरुस्त हैं और कल यानी 10 नवंबर को भारत के इंग्लैंड के खिलाफ सेमीफाइनल मुकाबले का हिस्सा होंगे. वहीं अब इस अपडेट ने रोहित शर्मा के इंग्लैंड के खिलाफ भारत के सेमीफाइनल मुकाबले से बाहर होने के सभी कयासों को खारिज कर दिया है. इस न्यूज ने उनके फैंस के बीच खुशी फैला दी है.

हिटमैन टूर्नामेंट में रहे हैं फ्लॉप

भारतीय टीम कप्तान रोहित शर्मा की कप्तानी पर कोई संदेह नहीं किया जा सकता. कप्तान के रूप में वो भारतीय टीम के लिए बेहद किफायती हैं और उनके नेतृत्व में टीम इंडिया शानदार प्रदर्शन करती जा रही है. लेकिन एक खिलाड़ी के तौर पर देखा जाए तो रोहित शर्मा फ्लॉप नजर आ रहे हैं. हिटमैन के नाम से जाने जाने वाले रोहित शर्मा का बल्ला इस पूरे टूर्नामेंट में फ्लॉप नजर आया.

टूर्नामेंट में नीदरलैंड के अलावा रोहित शर्मा ने किसी भी मुकाबले में भारतीय टीम के लिए शनदार प्रदर्शन नहीं किया और टीम के लिए बिलकुल किफायती नहीं साबित हुए हैं. उन्होंने इस टूर्नामेंट में भारत के लिए 5 मैचों में 5 परियां खेली हैं जिनमें उनके बल्ले से कुल मिला कर 89 रन बने हैं, जो की उनकी प्रतिभा के बिलकुल विपरित हैं.

Related posts