INDWvs SLW: फाइनल में रेणुका ने दिखाए तेवर फिर आया स्मृति का तूफान, भारत ने 7वीं बार एशिया कप पर किया कब्जा

INDW vs SLW: हरमनप्रीत कौर की अगुवाई वाली भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने रिकॉर्ड 7वीं बार एशिया कप के खिताब पर कब्जा कर लिया है। आज यानि 15 अक्टूबर को भारत ने एशिया कप2022 के फाइनल मुकाबले में श्रीलंका को 8 विकेटों की शर्मनाक हार थमाते हुए जीत हासिल की है। श्रीलंकाई कप्तान चमारी अटापट्टु ने टॉस जीतने के बाद पहले बल्लेबाजी करने का फैसला तो किया लेकिन उनकी टीम की कोई भी बल्लेबाज भारत की खूंखार गेंदबाजी का सामना नहीं कर पाई। लंकाई टीम ने सिर्फ 66 रनों का लक्ष्य निर्धारित किया। जिसे भारत ने आसानी से पार करते हुए

रेणुका सिंह ने श्रीलंका पर बरपाया कहर

भारत की ओर से तेज गेंदबाज रेणुका सिंह ने फाइनल मुकाबले में सबसे बेहतरीन गेंदबाजी का मुजायरा किया है। नई गेंद के साथ विकेट चटकाने में माहिर रेणुका ने एक बार फिर टीम इंडिया के लिए रामबाण का काम किया है। श्रीलंकाई बल्लेबाजी हर तरीके से भारत के गेंदबाजों के सामने लाचार नजर आई है, टॉस जीतने के बाद पहले बल्लेबाजी करने का उनका ही फैसला नासूर बन गया।

पहले 2 ओवर में भारत की ओर से कसी हुई गेंदबाजी होने के चलते कप्तान चमारी अटापट्टु ने रन आउट के चलते अपना विकेट गंवा दिया। वहीं पारी को संभालने की जिम्मेदारी में अनुष्का संजीवनी भी रन आउट का ही शिकार हो गईं। इन दोनों ही विकेटों को हासिल करने में विकेटकीपर ऋचा घोष का अहम योगदान रहा, जिन्होंनेगजब फुर्ती दिखाते हुए रन आउट को अंजाम दिया।

राजेश्वरी-स्नेह की फिरकी में फंसकर 65 रनों पर सिमटी श्रीलंका

अपने दोनों सलामी बल्लेबाजों का विकेट गिरने के बाद से ही श्रीलंकाई टीम के बल्लेबाजों का क्रीज पर आना जाना लगा रहा। कोई भी खिलाड़ी लंबे समय के लिए भारत की खूंखार गेंदबाजी का सामना नहीं कर सका। सिर्फ ओशादी राणासिंघे ने 13 रनों का सर्वाधिक योगदान दिया, इसके अलावा कोई भी बल्लेबाज 10 रनों का निजी आंकड़ा पार करने में कामयाब नहीं हो सकीं। रेणुका ने अपने कोटे के 3 ओवर में 3 विकेट अपने नाम किए। इसके अलावा राजेश्वरी गायकवाड और स्नेह राणा के खाते में भी 2-2 विकेट आए। भारत के इस शानदार प्रदर्शन के बाद फैंस ने सोशल मीडिया पर अतरंगी रिएक्शन देना शुरू कर दिया है

INDW vs SLW: स्मृति ने की तूफ़ानी बल्लेबाजी, भारत ने 7वीं बार जीता एशिया कप

गेंदबाजों के द्वारा शानदार प्रदर्शन ने भारत की जीत को सुनिश्चित कर दिया था। सिर्फ 66 रनों का लक्ष्य सामने देख कर टीम इंडिया की सलामी बल्लेबाज शेफाली वर्मा और स्मृति मंधाना ने बिना कोई देरी किए श्रीलंका पर प्रहार करना शुरू कर दिया। हालांकि इस बीच तेजी से रन बनाने की फिराक में शेफाली को अपना विकेट गंवाना पड़ा और एशिया कप 2022 में शानदार फॉर्म में चल रही जेमिमा भी आउट हो गईं।

 

Related posts