Join Now

PAK vs ENG: बाबर आजम की अगुवाई वाली पाकिस्तान क्रिकेट टीम को इंग्लैंड के हाथों अपने ही घर में एक रोमांचक टेस्ट मैच में हार का सामना करना पड़ा। टेस्ट फॉर्मेट में इंग्लिश कप्तान बेन स्टोक्स के कड़े फैसलों के बूते यह यादगार जीत उनके खाते में आई है। जांबाज तरीके से मेहमानों ने मुकाबले के आखिरी दिन बाजी मारी, पहले बल्लेबाजी करते हुए इंग्लैंड ने पहली पारी में 657 रन बनाए थे। जिसके जवाब में पाकिस्तान ने अच्छा जवाब देते हुए 579 रन बनाए। ऐसे में 78 रनों के साथ दूसरी पारी की शुरुआत करने वाली इंग्लिश टीम ने 264 रन पर पहुंच कर पाक को 343 रन का लक्ष्य दिया। जिसका पीछा करते हुए मेजबान सिर्फ 268 रन पर ऑल आउट हो गए।

पहली पारी में इंग्लैंड ने बनाए 657 रन

17 साल के लंबे अंतराल के बाद इंग्लैंड पाकिस्तान (PAK vs ENG) में कोई लाल गेंद का मुकाबला खेलने आई। इंग्लिश कप्तान बेन स्टोक्स ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। तो उनके सलामी बल्लेबाजों ने मोर्चा खोलते हुए ताबड़तोड़ अंदाज में पाकिस्तान की कुटाई करना शुरू कर दिया। जैक क्रोली(122) और बेन डकेत(107) ने शानदार अंदाज में पहले विकेट के लिए 233 रनों की साझेदारी की। फिर ओली पोप(107) और हैरी ब्रूक(153) ने भी ताबड़तोड़ अंदाज में बल्लेबाजी करते हुए इंग्लैंड को 657 के संयुक्त स्कोर पर पहुंचाया था।

बाबर आजम ने शतक जड़कर पाकिस्तान की कराई वापसी

657 रन के जवाब में पाकिस्तान ने भी तेवर दिखाते हुए मुनासिब जावाब दिया। सलामी बल्लेबाज इमाम उल हक और अब्दुल्लाह शफीक ने पहले विकेट के लिए 225 रन बनाए। दूसरे दिन बल्लेबाजी करने के लिए आए इन दोनों खिलाड़ियों ने तीसरे दिन के पहले घंटे तक बल्लेबाजी की और इस दौरान उन्होंने अपने शतक भी पूरे कर लिए। लेकिन तीसरे दिन के पहले ही घंटे में शफीक(114) के रूप में पाक को बड़ा झटका लगा।

वहीं अगले 20 रन के बाद इमाम(121) भी अपना विकेट गंवा बैठे। यहां से नंबर-3 पर आए अज़हर अली के साथ कप्तान बाबर आजम ने मोर्चा संभालते हुए पारी को भुनाना शुरू किया। लगातार विकेटों के पतन के बीच कप्तान बाबर आजम (Babar Azam) अपनी लय पकड़ चुके थे। उन्होंने एक छोर पर खूंटा गाड़ बल्लेबाजी करते हुए अंग्रेजी गेंदबाजों के हर सवाल का जवाब दिया और 136 रन बनाते हुए अपनी टीम को 579 तक पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई।

इंग्लैंड ने 343 रनों का लक्ष्य देकर पारी की घोषित

पाकिस्तान को 579 पर समेटने के बाद इंग्लैंड ने 78 रनों की बढ़त के साथ अपनी पारी की शुरुआत की। लेकिन इस बार वह पहली पारी की तरह ताबड़तोड़ अंदाज में बल्लेबाजी नहीं कर पाए। महज 36 के संयुक्त स्कोर पर 2 विकेट गंवाने के बाद इंग्लैंड की पारी लड़खड़ाती हुई नजर आ रही थी।

हालांकि जैक क्रोली(50), जो रूट(73) और हैरी ब्रूक(87) ने अर्धशतक जड़ते हुए मेहमानों को मजबूत स्थिति में लाकर खड़ा कर दिया था। 7 विकेट के नुकसान पर इंग्लैंड ने 264 रन बनाए, यहां चाहते तो वह और कुछ देर बल्लेबाजी कर सकते थे। लेकिन कप्तान बेन स्टोक्स ने बड़ा फैसला लेते हुए इसी स्कोर पर पारी को घोषित करने का फैसला ले लिया। जिसके कारण पाकिस्तान को 343 रनों का लक्ष्य मिला।

आखिरी दिन लड़खड़ा गई पाकिस्तान, इंग्लैंड ने मारी बाजी

लक्ष्य का पीछा करते हुए पाकिस्तान की शुरुआत बेहद खराब रही, महज 20 रन के स्कोर पर अब्दुल्लाह शफीक के रूप में पहला विकेट गिरा, वहीं कप्तान बाबर आजम सिर्फ 4 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। यहां से उम्मीदों को बड़ा झटका लगा, लेकिन इमाम उल हक और अज़हर अली ने पारी को संभालते हुए 64 रनों की साझेदारी करते गए पाक टीम की मुकाबले में वापसी कराई।

89 के स्कोर पर इमाम आउट हुए जिसके बाद मोहम्मद रिजवान ने मोर्चा संभालते हुए अज़हर के साथ पारी को भुनाना शुरू किया और स्कोर बोर्ड को 176 तक ले गए। लेकिन इस मौके पर रिजवान के आउट होते ही पाकिस्तान की पारी बुरी तरह से लड़खड़ा गई। विकेटों के पतन के चलते पाकिस्तान लक्ष्य से 74 रन पीछे रह गए और इंग्लैंड ने रोमांचक अंदाज में जीत हासिल की।