सेमीफाइनल में मिली हार के बाद राहुल द्रविड़ ने तोड़ी चुप्पी, कहा इस वजह से भारतीय खिलाड़ी नहीं खेलते हैं विदेशी टी20 लीग

RAHUL DRAVID TEAM INDIA

टी 20 वर्ल्ड कप में फाइनल की रेस से भारत की टीम बाहर हो चुकी है। इंग्लैंड के खिलाफ मिली इस हार की वजह खिलाड़ियों का ऑस्ट्रेलियाई पिचों पर खेलने का आभाव भी माना जा रहा हैं। भारतीय खिलाड़ी ऑस्ट्रेलिया में होने वाली बीबीएल में नहीं खेलते हैं, जबकि इंग्लैंड के कई खिलाड़ी इस लीग में हिस्सा लेते हैं। जिसकी वजह से उनको यहां खेलने का ज्यादा अनुभव है।

भारत की हार के बाद भारतीय खिलाड़ियों को विदेशी टी20 लीग (बीबीएल, सीपीएल इत्यादि) में खिलाने की मांग की जा रही हैं। टीम के हेड कोच ने मैच के बाद अपना बयान दिया हैं।

विदेशी लीग पर बोले हेड कोच

भारतीय कोच राहुल द्रविड़ ने कहा कि

“इंग्लैंड के कई खिलाड़ी यहां आए हैं और (बीबीएल) खेले हैं। इस मेगा इवेंट में, यह साफतौर पर दिखाई दिया है। मेरा मानना है कि यह भारतीय क्रिकेट के लिए बहुत मुश्किल है क्योंकि इनमें से बहुत सारे टूर्नामेंट जब खेले जाते हैं जब भारत का डोमेस्टिक सीज़न चल रहा होता है। मेरा मानना है कि हमारे काफी खिलाड़ी शायद इन लीगों में नहीं खेल पाते हैं।

विदेशी लीग में न खेलने पर कोच राहुल द्रविड़ ने कहा कि

“हमारे खिलाड़ियों का विदेशी टी20 लीग में खेलने का फैसला बीसीसीआई को करना है। हालांकि, यह हमारे डोमेस्टिक सीज़न के बीच में होती हैं। वहीं जिस तरह से भारतीय खिलाड़ियों की मांग है और हमने उन्हें इन लीग में खेलने की अनुमति दे दी तो हमारा डोमेस्टिक क्रिकेट खत्म हो जाएगा।”

Read More : टी20 विश्व कप में मिली हार के बाद अब भारत करेगा इन 2 सीरीज के लिए दौरा, जानिए कब, कहां खेले जायेंगे मैच

खत्म हो जाएगा डोमेस्टिक क्रिकेट

कोच राहुल द्रविड़ ने कहा कि

“मैं जानता हूँ कि बहुत से लोग इस चीज के बारे में बात करते हैं [विदेशी टी 20 लीग में कोई भारतीय नहीं], लेकिन हमें बहुत सावधान रहने की जरुरत हैं। हमारे बहुत सारे लड़कों को डोमेस्टिक सीज़न के बीच में विदेशी लीग खेलने के लिए कहा जा रहा है। हम देख चुके हैं कि वेस्टइंडीज क्रिकेट के साथ क्या हुआ है, और मैं नहीं चाहूंगा कि भारतीय क्रिकेट भी उसी राह पर चल पड़े।”

राहुल द्रविड़ ने आगे कहा कि

“हमारी घरेलू (प्रथम श्रेणी) ट्रॉफी, हमारी रणजी ट्रॉफी खत्म हो जाएगी, और इसका मतलब होगा कि टेस्ट क्रिकेट समाप्त हो जाएगा।”

Read More : शर्मनाक! क्या शाहीन अफरीदी पाकिस्तानी झंडे के साथ भी ऐसा करते जैसा भारतीय झंडे के साथ किया?

Source link

Related posts