इंजीनियरिंग छोड़ नेता बनी रविंद्र जडेजा की पत्नी, बीजेपी ज्वाइन करते ही इस शहर से मिला विधानसभा का टिकट

ravindra JADEJA AND RIVABA

भारतीय टीम के आलराउंडर खिलाड़ी रविंद्र जडेजा की कमी टीम इंडिया को खूब खली है. अगर रविंद्र जडेजा टी20 विश्व कप 2022 में भारतीय टीम का हिस्सा होते तो शायद रोहित शर्मा की कप्तानी में टीम इंडिया टी20 विश्व कप 2022 अपने नाम कर सकती थी, लेकिन इस बार रविंद्र जडेजा टीम इंडिया का हिस्सा नहीं थे और उसका खामियाजा भारत को सेमीफाइनल में इंग्लैंड से हार कर टी20 विश्व कप से बाहर होकर चुकाना पड़ा.

इस वजह से टी20 विश्व कप का हिस्सा नही बने रविंद्र जडेजा

रविंद्र जडेजा का टी20 विश्व कप 2022 खेलना तय था. रविंद्र जडेजा की धारदार गेंदबाजी के सामने विरोधी टीम के बल्लेबाजों का टिकना मुश्किल होता है. ऐसा हमने कई बार देखा भी है, लेकिन टी20 विश्व कप से ठीक पहले एशिया कप के बीच ही रविंद्र जडेजा चोटिल हो गये और इसकी वजह से उन्हें बीच टूर्नामेंट से बाहर होना पड़ा.

रविंद्र जडेजा के एशिया कप से बाहर होने के बाद भारत को श्रीलंका और पाकिस्तान के खिलाफ नॉकआउट मैचों में हार का सामना करना पड़ा और फाइनल से पहले ही टीम इंडिया का सफर वहीं पर खत्म हो गया.

रविंद्र जडेजा की कमी भारत को टी20 विश्व कप में भी खली, क्योंकि रविंद्र जडेजा की जगह टीम इंडिया में शामिल अक्षर पटेल पुरे विश्व कप में बल्ले और गेंद दोनों से फ्लॉप रहे, जिसकी वजह से भारतीय टीम गेंदबाजी में थोड़ी कमजोर नजर आई.

ALSO READ: राहुल द्रविड़ और चेतन शर्मा की इस जिद्द की वजह से टूटा भारत के विश्व कप जीतने का सपना, नहीं तो इस बार पक्का था कप

रविंद्र जडेजा की पत्नी को मिला भाजपा से टिकट

गौरतलब है कि कुछ समय में गुजरात में विधानसभा के चुनाव होने वाले हैं, जिसके लिए चुनाव से पहले ही भारतीय जनता पार्टी ने निर्वाचित उम्मीदवारों की कल यानी गुरुवार को पहली लिस्ट जारी की है, जिसमें टीम इंडिया के स्टार खिलाड़ी ऑलराउंडर रविंद्र जडेजा की पत्नी को जामनगर से टिकट मिला है.

रविंद्र जडेजा की पत्नी साल 2019 में लोकसभा चुनाव के बाद बीजेपी में शामिल हुईं थीं, जिसके बाद उन पर भाजपा ने एक बार फिर से विश्वास जताते हुए जामनगर से टिकट दिया है. वहीं रविंद्र जडेजा की बहन भी कांग्रेस से मैदान में उतर सकती हैं.

आपको बता दें कि रविंद्र जडेजा की पत्नी इंजीनियरिंग की हुई हैं और उसके बाद उन्होंने सिविल सेवा की तैयारी शुरू किया था, लेकिन जब भारत के आलराउंडर खिलाड़ी रविंद्र जडेजा से उनकी शादी हुई तो उन्होंने UPSC की तैयारी छोड़ राजनीति में अपना सफर शुरू किया.

ALSO READ: “रोहित, विराट जैसे खिलाड़ी आयेंगे लेकिन धोनी जैसा मुश्किल है….” भारत की हार के बाद गौतम गंभीर को आई धोनी की याद

Source link

Related posts