“अगर वो भारतीय टीम में नहीं होता तो हमारी जीत पक्की थी” जिम्बाब्वे के कप्तान ने बताया क्यों करना पड़ा हार का सामना

भारत ने जिम्बाब्वे को 5 विकेट से हरा दिया है. टॉस जीतकर भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 186 रनों का स्कोर खड़ा किया. जवाब में जिम्बाब्वे सिर्फ 115 रन ही बना सकी और मैच 72 रनों से हार गई. मैच के हीरो सूर्यकुमार यादव रहे, जिन्होंने शानदार अर्धशतक बनाया. भारतीय टीम ने इस जीत के साथ अपना ग्रुप टाॅप कर लिया है. अब भारत सेमीफाइनल में इंग्लैंड से भिड़ेगा.

सुर्या के बारे में क्या बोले जिम्बाब्वे के कप्तान

पोस्ट मैच प्रजेंटेशन में बोलते हुए जिम्बाब्वे के कप्तान क्रेग एरविन ने कहा,

‘हम कुछ योजनाएं बदल सकते थे, सूर्या ने बैक एंड में बहुत अच्छा प्रदर्शन किया और रिची की वाइड यॉर्कर पर शानदार प्रदर्शन किया. उन्होंने पूरा खेल बदल दिया.’

अपनी टीम के प्रदर्शन पर बात करते हुए उन्होंने कहा कि

‘इस टूर्नामेंट की बात करें तो हमने बल्लेबाज़ी से कुछ सकारात्मकता दिखाई. पिछले कुछ मैचों में, हमने निडर क्रिकेट नहीं खेला और हम शेल्ल में चले गए थे. यदि आप बस वहीं खड़े होकर स्विंग करते रहेंगे, तो आप आउट होंगे ही. हमें अधिक सक्रिय होने की आवश्यकता है. हमारे पिछले कुछ परिणाम योजना के अनुसार नहीं गए. हमने सुपर 12 में जगह बनाने के लिए अच्छा काम किया. लड़कों ने पूरे विश्व कप में वास्तव में कड़ा संघर्ष किया.’

भारत की जीत में सूर्यकुमार यादव चमके

सुर्याकुमार यादव ने जिस प्रकार से बल्लेबाजी की सबको एबी डीविलियर्स की याद आ गई. सुर्या ने मैदान के चारो तरफ शाॅट लगाया. सुर्या का बैठकर लैप शाॅट देखना बहुत ही अद्भुत अनुभव रहा. सुर्या ने 25 गेंदो में 6 चौके और 4 छक्के की मदद से 61 रनों की पारी खेली. सुर्या के इस पारी के लिए उनको मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार भी मिला.

पोस्ट मैच प्रजेंटेशन में जब सूर्यकुमार यादव से पूछा गया कि क्या वह भारत के मिस्टर 360 डिग्री हैं, तो उन्होंने कहा कि दुनिया में सिर्फ एक ही मिस्टर 360 डिग्री है और वह हैं एबी डीविलियर्स. इस जवाब से सुर्या में बड़ा दिल दिखता है. अगर सूर्यकुमार यादव इस प्रकार से बल्लेबाजी करते रहे तो भारत को चैंपियन बनने से कोई नही रोक सकता.

Related posts