Join Now

इंग्लैंड के मध्य क्रम के बल्लेबाज हैरी ब्रुक को पाकिस्तान में अपनी सफलता का इतना भरोसा था कि तीन टेस्ट मैचों के दौरे की शुरुआत से पहले ही उन्होंने एक दोस्त से कहा था कि वह एशियाई देश में दो शतक बनाएंगे. ब्रुक ने पहले टेस्ट में 153 और अगले में 108 रन बनाए थे. उन्होंने तीसरे टेस्ट की पहली दबाव वाली पारी में शानदार 111 रन बनाए, जिससे इंग्लैंड ने अपनी पारी को 155/5 से पुनर्जीवित करते हुए पाकिस्तान की पहली पारी के 304 रन के जवाब में 354 रन बनाए.

ब्रुक ने विकेटकीपर बेन फोक्स की प्रशंसा की, जिनके साथ उन्होंने छठे विकेट के लिए 117 रन जोड़े और इंग्लैंड को पाकिस्तान की पहली पारी के 304 रनों के करीब पहुंचा दिया. उन्होंने कहा, ‘बेन फोक्स को ऐसा नहीं लग रहा था कि वह आउट हो जाएंगे. हम जितनी देर तक खेल सकते थे, उतनी देर तक खेलते रहे. हम सिर्फ एक साझेदारी बनाने की कोशिश कर रहे थे.’ उन्होंने कहा, ‘हम उन्हें (पाकिस्तान को) को पीछे करने की पूरी कोशिश करेंगे.’

पाकिस्तान ने दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक कोई विकेट गंवाए बिना 50 रन की बढ़त को सिर्फ 29 रन पर ला दिया. मैच के बाद मीडिया से बात करते हुए ब्रुक ने खुलासा किया कि उन्होंने एक दोस्त से कहा था कि वह पाकिस्तान में दो शतक बनाएंगे. पाकिस्तान में खेलने का अनुभव रखने वाले ब्रुक ने कहा, ‘मैंने अपने एक साथी (दौरे से पहले) से कहा था कि मैं यहां से जाने से पहले दो शतक लगाना चाहता हूं